All English Articles

All Sanskrit Articles

S. No.
Manuscript Title
Page No.
Download PDF
Language
1
राम काव्य की प्रासंगिकताः एंव स्त्री सशक्तिकरण
डाॅ शंकर ए.राठोड (Volume - 1)
46-48
Hindi
2
चाणक्य नीति
Dr. Saroj Gupta (Volume - 1)
53-54
Hindi
3
दलित आत्मकथाओं में चित्रित दलित जीवन
डॉ शंकर ए.राठोड (Volume - 2)
16-18
Hindi
4
इक्कीसवीं सदी के हिंदी साहित्य में ‘जिंदगी के यथार्थ का बोध’
Dr. T. Lathamangesh (Volume - 2)
28-30
Hindi
5
संस्कृत - ज्ञान का स्त्रोत
डॉ. सरोज गुप्ता (Volume - 8)
55-57
Hindi
6
मातृभूमिः स्त्री की अनुपस्थिति में विकृत सामाजिक संरचना
डॉ. हनुमत लाल मीना (Volume - 3)
46-49
Hindi
7
मानस का राम
Dr. T. Lathamangesh (Volume - 3)
53-55
Hindi
8
कबीर की सामाजिक चेतना
Dr.T.Lathamangesh (Volume - 4)
30-31
Hindi
9
स्त्री के नृषंस उत्पीड़न का दस्तावेज़ः‘ किस्सा हवेली ’
विजय कुमार (Volume - 5)
12-13
Hindi
10
प्रेमचंद की कथा- भाषा और कफन
डॉ.विवेकानंद उपाध्याय (Volume - 5)
16-18
Hindi
11
रमेश बख्शी के नाटक “पिनकुशन” में व्यक्त व्यवस्था का आतंक बनाम जनक्रांति
बन्दना ठाकुर (Volume - 5)
27-28
Hindi
12
नामवर सिंह-दूसरी परम्परा के अन्वेषक
टीकमचन्द मीना (Volume - 5)
29-31
Hindi
13
शमशेर की काव्यानुभूति की बुनावट, विचारधारा और काव्य सम्वेदना
विवेकानंद उपाध्याय (Volume - 5)
32-34
Hindi
14
महिला नाट्य लेखन में देह विमर्श: सीमाएं एवं सम्भावनाएं
डॉ. जगमोहन शर्मा (Volume - 5)
35-38
Hindi
15
1970 दे बाद दी डोगरी कविता च नारी दे बक्ख-बक्ख रूप
Pooja Sharma (Volume - 5)
75-76
Hindi
16
ՙमहाराणा का महत्त्व՚ के उपजीव्य स्रोत
Dr. Arvinder Kaur (Volume - 6)
15-18
Hindi
17
अरविंद तिवारी के व्यंग्य निबंधों में वर्णित भ्रष्टाचार
Dr.T.Lathamangesh (Volume - 6)
49-50
Hindi
18
भारतीय ग्रामीण यथार्थ और “ बबूल ”
ज्योति रानी (Volume - 8)
26-27
Hindi
19
“गोदान ” शीर्षक की सार्थकता
परषोतम कुमार (Volume - 8)
28-29
Hindi
20
विस्थापित हमेशा विस्थापित ही रहता है
मुश्ताक अहमद (Volume - 8)
37-38
Hindi
21
भूमण्डलीकरण के दौर में हिन्दी भाषा
बन्दना ठाकुर (Volume - 9)
09-11
Hindi
22
भूमंडलीकरण एवं आदिवासी उत्पीड़न: ग्लोबल गाँव के देवता
विजय कुमार (Volume - 9)
12-13
Hindi
23
आदिवासी विमर्श
डॉ. अंजू बाला (Volume - 9)
16-18
Hindi
24
साहित्य और समाज का अन्तः सम्बन्ध
डॉ. अन्तिमा (Volume - 9)
29-30
Hindi
25
‘सलाम आखिरी’ उपन्यास में वेश्या-जीवन
रूचिका शर्मा (Volume - 9)
45-47
Hindi
26
सिनेमा और प्रेमचंद का कथा साहित्य
डॉ॰ नारायण (Volume - 10)
09-11
Hindi
27
दलित साहित्य का सौंदर्यशास्त्र
डॉ. अन्तिमा (Volume - 10)
15-17
Hindi
28
जैन धर्म की भारतीय संस्कृति को देन
डॉ. रूचिका शर्मा (Volume - 10)
39-40
Hindi
29
राजी सेठ के कहानी साहित्य में सामाजिक न्याय की तलाश करती नारी
डॉ. ष्मस अख्तर (Volume - 11)
28-29
Hindi
30
आदिवासी अस्मिता तथा सघंर्ष की गाथा:पावँ तले की दूब
रेणुका शर्मा (Volume - 11)
39-41
Hindi
31
मधुकांकरिया कृत उपन्यास ‘सूखते चिनार’ में आतंकवाद
डॉ. रूचिका शर्मा (Volume - 11)
42-43
Hindi
32
शिक्षण संस्थानो का यथार्थ: संदर्भ अपना मोर्चा
डॉ नीरज शर्मा (Volume - 12)
10-12
Hindi
33
सर्जक, सत्ता और जीवन संघर्ष: चुनिन्दा हिन्दी नाटक
डॉ विपुल कुमार (Volume - 12)
43-46
Hindi
34
इलेक्ट्रानिक एवं प्रिंट मीडिया में हिंदी की भूमिका
प्रा. संतोष तानाजी धोत्रे (Volume - 13)
10-11
Hindi
35
पारसी रंगमंच का योगदान
प्रो. डॉ. सदानंद भोसले , जयराम गाडेकर (Volume - 13)
12-15
Hindi
36
दलित उत्पीड़न के परिप्रेक्ष्य में ‘किस्सा हवेली’
विजय कुमार (Volume - 13)
30-31
Hindi
37
पारिवारिक और सामाजिक जीवन पर साम्प्रदायिकता का प्रभाव और हिंदी कहानी
मुल्ला आदम अली (Volume - 14)
01-02
Hindi
38
हिन्दी साहित्य और सिनेमा
निशा वर्मा (Volume - 14)
58-59
Hindi
39
‘बहुजन’ उपन्यास में बदलता परिवेश
प्रा. राजेंद्र घोडे (Volume - 14)
63-64
Hindi
40
जनवादी कवि ‘अवतार सिंह संधू’ उर्फ ‘पाश’
सुनील कुमार (Volume - 14)
67-70
Hindi
41
आवाज़ का नीलाम एकांकी की प्रासंगिकता
ज्योति रानी (Volume - 14)
73-75
Hindi
42
हिन्दी कहानी: विभाजन की पीड़ा
निशा वर्मा (Volume - 15)
03-04
Hindi
43
“कबीर का सार्थक चिन्तन”
मुल्ला आदम अली (Volume - 15)
08-09
Hindi
44
‘वो जो खो गया’ में व्यक्त पारिवारिक विघटन
कोशिका शर्मा (Volume - 15)
13-15
Hindi
45
‘सत्ती मैया का चौरा’ और सांप्रदायिकता
प्रा.जयराम गाडेकर (Volume - 16)
27-28
Hindi
46
वैदिक कालीन संगीत में दुन्दुभि,तथा भूमिदुन्दुभि वाद्य का महत्व
Hema Dani (Volume - 17)
33-35
Hindi
47
रचनावाद में मूल्यांकन
नविता (Volume - 17)
43-44
Hindi
48
दार्शनिक एवं मनोवैज्ञानिक परिप्रेक्ष्य में बुद्धि का स्वरूप
Dr.Chanchal Kumari (Volume - 18)
30-32
Hindi
49
बाल अपचार: कारण तथा सुधार हेतु विभिन्न नीतियाँ
प्रो.रचना वर्मा मोहन, गुरिन्द्र कौर (Volume - 19)
14-17
Hindi
50
वैश्वीकरण के युग में तेलुगु भाषा की भूमिका
डॉ. नारायण (Volume - 1)
13-14
Hindi
51
आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी रचित साहित्यानुसार दलित का अर्थ
डॉ. आदित्य आंगिरस (Volume - 1)
15-23
Hindi
52
‘शब्द भी हत्या करते हैं’ उपन्यास में विचित्र मानवीय संवेदना
निशा वर्मा (Volume - 5)
14-15
Hindi
53
परम्परागत एवं आधुनिक छात्रध्यापकों की शिक्षण अभिवृत्ति का तुलनात्मक अध्ययन
सनत कुमार झा (Volume - 19)
42-46
Hindi
54
महाभारत काल में संगीत और अवनद्ध वाद्य
Hema Dani (Volume - 8)
52-54
Hindi
55
जगत स्वरूप का निरूपण
रीना (Volume - 20)
13-14
Hindi
56
‘‘वर्तमान परिप्रेक्ष्य और पुलिस’’
डॉ. प्रदीप कुमार दीक्षित (Volume - 20)
29-31
Hindi
57
समाज में नारी की स्थिति - एक विवेचन
प्रकृति (Volume - 21)
31-33
Hindi
58
नरेंद्र मोहन की कविताओं में मानवाधिकार (‘शर्मिला इरोम तथा अन्य कविताएँ’) के विशेष सन्दर्भ में
Dr.Lalimol Varghese P. (Volume - 21)
36-38
Hindi
59
समकालीन कविताओं में वर्तमान नारी चरित्र का चित्रण
डॉ. धन्या. के. एम (Volume - 21)
42-43
Hindi
60
अर्थ परिवर्तन की प्रक्रिया : भारतीय परिप्रेक्ष्य
डॉ. आदित्य आंगिरस (Volume - 1)
01-05
Hindi
61
महाभारत के वनपर्व में वर्णित वनस्पतियाँ एवं उसके गुण
डॉ.मोना बाला (Volume - 23)
01-04
Hindi
62
भक्ति परम्परा के परिप्रेक्ष्य में विभिन्न सम्प्रदाय
Sasmita Bandar Nayak (Volume - 23)
09-12
Hindi
63
घरेलू मसालों का औषधीय महत्व
अतुल यादव, मनोज कुमार ,एम.के.पाल , अमित कुमार (Volume - 20)
48-50
Hindi
64
घरेलू पौधे एवं प्रदूषण नियंत्रण
मनोज कुमार, मनोज कुमार, शिवांशु तिवारी (Volume - 16)
61-63
Hindi
65
पूर्वी उत्तर प्रदेश में मसालों की खेती की स्थिति एवं सम्भावनायें
अतुल यादव, मनोज कुमार ,एम. के.पाल , अमित कुमार (Volume - 19)
54-55
Hindi
66
घर में बागवानी के लिए पौधों का चयन
अतुल यादव, मनोज कुमार ,एम. के.पाल , अमित कुमार (Volume - 18)
44-47
Hindi
67
सतीश जमाली की कहानियों में समसामयिक समस्याएँ
अशोक कुमार सैन (Volume - 23)
41-43
Hindi
68
पुरातन भारतीय दुर्ग निर्माण प्रणाली की राज्य सुरक्षा में भूमिका
नीटू दत्त नौटियाल (Volume - 13)
81-83
Hindi
69
मरण एवं गुणस्थान का अन्तः सम्बन्ध-भगवती आरधना के संदर्भ में
विनय कुमार जैन (Volume - 23)
47-50
Hindi
70
शारीरिक स्वास्थ्य एवं मानसिक स्वास्थ्य में योग शिक्षा
अमित कुमार (Volume - 23)
51-52
Hindi
71
समकालीन कविता और मिथकीय विचार
डॉ. हमीरभाई पी. मकवाणा (Volume - 23)
68-70
Hindi
72
धर्मशास्त्र में अपराध एवं दण्ड का स्वरूप
बलराम आर्य (Volume - 23)
89-92
Hindi
73
तीर्थः पवित्र स्थान
डॉ. भावना आचार्य (Volume - 24)
25-26
Hindi
74
हिन्दी प्रवासी कथा साहित्य में नारी जीवन
डॉ. नारायण (Volume - 24)
34-36
Hindi
75
भारतीय दर्शन में योग का स्वरूप
डॉ.रमेश कुमार (Volume - 22)
41-44
Hindi
76
सांख्यदर्शन के अनुसार पुरूष का स्वरूप
शम्भू कुमार तिवारी (Volume - 22)
47-48
Hindi
77
रघुवंश महाकाव्य में निहित पर्यावरण शिक्षा की समीक्षा
प्रीति (Volume - 24)
39-44
Hindi
78
विवाह संस्था: तुलनात्मक अध्ययन वेद एवं अवेस्ता के सन्दर्भ में
मीनाक्षी (Volume - 24)
45-49
Hindi
79
बालकों के सर्वांगीण विकास में आध्यात्मिक शिक्षा एक सशक्त कदम
डॉ.भारती कौशल (Volume - 24)
56-58
Hindi
80
महाभारतकालीन सैन्य शिक्षाश्रम
डॉ.मोना बाला (Volume - 24)
65-68
Hindi
81
उपनिषदों में योग का स्वरूप
डॉ.रमेश कुमार (Volume - 20)
51-54
Hindi
82
राष्ट्रीय एकता एवं मानवीय मूल्यों की रक्षा के सन्दर्भ में संस्कृत का योगदान
डॉ. श्रीमती आशा रानी पाण्डेय (Volume - 24)
90-92
Hindi
83
वर्तमान समाज में शुकनासोपदेश की उपयोगिता
रत्नश्री (Volume - 25)
16-17
Hindi
84
वर्तमान जीवन में वास्तुशास्त्र की उपादेयता
डॉ.उमा शंकर (Volume - 17)
65-67
Hindi
85
सेवासदन उपन्यास में यौनकर्मी जीवन-संघर्ष
राज बहादुर पुष्कर, डॉ. जय कौशल (Volume - 25)
33-36
Hindi
86
अंग्रेजी वर्णमाला – देवनागरी वर्णमाला की अनुकृति
Rajeev Sharma IAS (Volume - 25)
41-47
Hindi
87
टी.वी.चैनलों का सिनेमा पर प्रभाव
अभिषेक त्रिपाठी (Volume - 25)
50-52
Hindi
88
भारतीय संस्कृति में नीतिशास्त्र प्राचीन परम्परा
बालधा नयना जी. (Volume - 25)
59-61
Hindi
89
वेदों में वर्णित मानवाधिकारों का वर्तमान परिपेक्ष्य में अनुशीलन
विपुल शिवसागर (Volume - 25)
70-74
Hindi
90
श्रीद्वारकाधीशमहाकाव्यम् का महाकाव्य के लक्षणों के आधार पर महाकाव्यत्व
डॉ. संजय कुमार शर्मा (Volume - 16)
73-76
Hindi
91
समकालीन हिंदी कविता में पारिस्थितिकीय संवेदना
ध्रुव कुमार (Volume - 25)
75-79
Hindi
92
महर्षि दयानन्द का मन्तव्य
डॉ. नीता आर्या (Volume - 18)
52-53
Hindi
93
सत्यार्थ प्रकाश में सन्तानों की शिक्षा
डॉ. नीता आर्या (Volume - 19)
60-62
Hindi
94
कुमारसम्भव् महाकाव्य में पात्र योजना
डॉ. नीता आर्या (Volume - 24)
93-94
Hindi
95
नीति ग्रंथों में अर्थ की महत्ता
बालधा नयना जी. (Volume - 26)
06-08
Hindi
96
गोपाल चतुर्वेदी का व्‍यंग्‍य साहित्‍य एवं व्‍यंग्‍य का भविष्‍य
कैलाश वर्मा (Volume - 22)
59-62
Hindi
97
गोपाल चतुर्वेदी के व्‍यंग्‍य साहित्‍य का विषयगत अनुशीलन
कैलाश वर्मा (Volume - 26)
16-19
Hindi
98
भारतीय न्यायशास्त्र मे अनुमान प्रमाण का स्वरूप
विनय कान्त (Volume - 26)
20-21
Hindi
99
शेखर: एक जीवनी - शेखर के विद्रोह का स्वरूप
सर्वेश कुमार (Volume - 26)
43-46
Hindi
100
राजी सेठ के कहानी साहित्य का समाजशास्त्रीय अध्ययन
Poonam Nag (Volume - 26)
47-50
Hindi
101
छन्दमुक्त काव्य और नई कविता
सर्वेश कुमार (Volume - 26)
51-55
Hindi
102
सुरेन्द्र वर्मा के उपन्यासों में नारी संघर्ष चेतना
Babita Bisht (Volume - 26)
60-62
Hindi
103
भारतीय जीवन पद्धति में आयुर्वेद का महत्व
डॉ. रणजित द. पाटील (Volume - 26)
63-66
Hindi
104
कृष्णा अग्निहोत्री के साहित्य में आदिवासी समाज
Sartaj P. H (Volume - 25)
91-93
Hindi
105
रामदरस मिश्र के कहानियों में चित्रित ग्रामीण जीवन
मधुनायक लमाणी (Volume - 26)
67-68
Hindi
106
हिन्दी साहित्य में कृष्णा अग्निहोत्री का योगदान
सर्ताज पि हेच (Volume - 26)
69-71
Hindi
107
रामदरश मिश्र की कहानियों में युगीन समस्याएँ में ग्रामीण,राजनितिक एवं आर्थिक आयाम
मधुनायक लमाणी (Volume - 26)
72-73
Hindi
108
केरल में दलित जाति का स्थान और उत्थान
Lakshmi V. (Volume - 26)
89-91
Hindi
109
कर्नाटक में हिंदी भाषा के प्रचार और प्रसार
रमेशा एम.एस. (Volume - 26)
100-101
Hindi
110
न्यायदर्शन में पदार्थबोध
विनय कान्त (Volume - 27)
01-03
Hindi
111
बौद्ध कालीन संस्कृति की अविस्मरणीय गाथा –“दिव्या”
मनीषा वर्मा (Volume - 27)
04-06
Hindi
112
हिन्दी उपन्यासों में विस्थापन का दर्द
डॉ. बजरंग चौहान (Volume - 27)
28-31
Hindi
113
मध्यकालीन इतिहास में भक्ति का औचित्य एवं भक्ति आन्दोलन
संजय कुमार (Volume - 27)
38-40
Hindi
114
नई कविता और रस के प्रतिमान
राहुल कुमार (Volume - 27)
41-44
Hindi
115
जीवन और साहित्य
सुनीता शुक्ला (Volume - 27)
45-46
Hindi
116
समकालीन व्यंग्य साहित्य की चुनौतियाँ
सुनीता शुक्ला (Volume - 27)
50-51
Hindi
117
वैदिक संस्कृति साहित्य में पर्यावरण जागरूकता : एक मूल्यांकन
डॉ. कादम्बरी मिश्रा, अंजूलिका, डॉ. रूपेश कुमार मिश्रा (Volume - 27)
54-56
Hindi
118
नारी सशक्तिकरण और भारतीय सिनेमा
मोनालिसा दास (Volume - 27)
63-64
Hindi
119
मनुस्मृति में प्रतिपादित षोड्श संस्कारों की आधुनिक परिप्रेक्ष्य में उपयोगिता
अरविन्द कुमार आर्य (Volume - 27)
86-87
Hindi
120
वर्तमान समाज में नैतिक मूल्यों का ह्रास
मधु गुप्ता (Volume - 27)
88-90
Hindi
121
डॉ. अभिराज राजेन्द्र मिश्र प्रणीत प्रहसन
डॉ. स्मिता शर्मा (Volume - 27)
95-98
Hindi
122
श्री वल्लभाचार्य मतानुसार पुष्टि भक्ति का स्वरूप
रीना (Volume - 19)
63-64
Hindi
123
वेद व्याख्या में व्याकरण की उपयोगिता
अरविन्द कुमार आर्य (Volume - 27)
108-110
Hindi
124
प्राचीन भारत में शिक्षा प्रणाली का सांस्कृतिक विकास
डॉ. सुषमा जोशी (Volume - 27)
111-113
Hindi
125
संस्कृत के प्रमुख रूपकों में नारी की स्थिति एवं अधिकार
पुष्पेन्द्र कुमार सेवक (Volume - 28)
18-27
Hindi
126
पर्यावरण संरक्षण का वेदों में वर्णन
उर्मिला देवी (Volume - 28)
36-38
Hindi
127
कुँवर नारायण की काव्य-दृष्टि
अभिनव प्रकाश (Volume - 28)
59-61
Hindi
128
मराठी साहित्य की लोकसंस्कृति
डॉ. नेहा कल्याणी (Volume - 22)
63-65
Hindi
129
लोक साहित्य और लोकजीवन
डॉ. नेहा कल्याणी (Volume - 26)
123-125
Hindi
130
ऐहोल शिलालेख एवं पुलकेशी द्वितीय
डॉ.मोना बाला (Volume - 28)
73-75
Hindi
131
अपने सामने काव्य संग्रह में निहित आत्मसंघर्ष का स्वर
अभिनव प्रकाश (Volume - 28)
79-81
Hindi
132
कृष्णा सोबती के कथा साहित्य में नारी
डॉ. शत्रुघ्न शरण सिंह (Volume - 28)
87-89
Hindi
133
रामचरित मानस में मंगल: विश्लेषण और विनियोग
डॉ. शत्रुघ्न शरण सिंह (Volume - 27)
130-132
Hindi
134
शूद्रों के घरों का अन्न भी भक्ष्य था
डॉ.आरती रानी (Volume - 28)
178-181
Hindi
135
आदिवासी कविता में विस्थापन की त्रासदी
विद्यार्थी कुमार (Volume - 29)
18-21
Hindi
136
श्रीमद्भगवद्गीता में ज्ञान मीमांसा
Rajni Sharma (Volume - 29)
06-09
Hindi