Volume 1 (July - August, 2015)

Go Back

Next Volume

S. No.
Manuscript Title
Page No.
Download PDF
Language
01.
अर्थ परिवर्तन की प्रकियाः भारतीय परिप्रेक्ष्य
डाॅ.आदित्य आंगिरस
01-05
Hindi
02.
अर्हद्दर्शने जीव विवेचनम
डाॅ. कुलदीप कुमार
06-12
Sanskrit
03.
वैश्वीकरण के युग में तेलुगु भाषा की भूमिका
डाॅ.नारायण
13-14
Hindi
 04.
 आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी रचित साहित्यानुसार दलित का अर्थ
डाॅ.आदित्य आंगिरस
15-23
Hindi 
05.
The Upanishadic polity: Some Speculations
Dr.Aditya Angiras
24-29
English
 06.
रसालङ्कार की अवधारणा और भोज 
डाॅ. ममता गुप्ता
30-33 
Sanskrit 
 07.
कायिक चेष्टाओं द्वारा भावों का सम्प्रेषण 
डाॅ. कमलनयन शुक्ल
34-39 
Sanskrit 
08. 
मनुस्मृति में निरूपित नारियों की आर्थिक स्थिति:स्त्रीधन के विशेष संदर्भ में
डाॅ. रविश तमन्ना ताजिर 
40-41 
Sanskrit 
09. 
प्राचीन भारतीय अर्थव्यवस्था में नारी का योगदान 
डाॅ. रविश तमन्ना ताजिर
42-43 
Sanskrit 
 10.
BOOK REVIEW :  INDIA IN THE AGE OF KᾹŚIKᾹVṚTTI
Dr. Shuchita Dalal 
44-45 
English 
 11.
राम काव्य की प्रासंगिकताः एंव स्त्री सशक्तिकरण
डाॅ शंकर ए.राठोड 
 46-48
Hindi 
13. 
चाणक्य नीति
Dr. Saroj Gupta 
53-54 
Hindi